Answer for कृषि यन्त्र किसे कहते है ?

खेत को बीज बोने के लिए तथा तैयार करने के लिए ट्रैक्टर पर कृषि यन्त्र लगाकर खेत को तैयार किया जाता है। इसके अतिरिक्त बिजाई करने, खाद व कीटनाशक फेंकने और कटाई करने आदि के लिए भी कृषि यन्त्रों का उपयोग किया जाता है। वह औजार, जिन्हें ट्रैक्टर के साथ जोड़कर विभिन्न प्रकार के कृषि कार्य किए जाते हैं, कृषि यन्त्र कहलाते हैं।

प्राइमरी टिलेज टूल Primary Tillage Tool
प्राइमरी टिलेज टूल के रूप में निम्न प्रकार के उपकरण प्रयोग किये जाते हैं

डिस्क प्लाउ Disc Plough
इसमें चार इंच व्यास के 3 फुट से 4 फुट तक लम्बे पाइप बीम (beam) का प्रयोग किया जाता है। इस पाइप (बीम) के नीचे 3 इंच के पाइप पर नीचे की ओर दो बॉल बियरिंग लगाये जाते हैं। इसके एक्सेल पर बीच में गोलाई लिए हुए (कॉन्केव शक्ल में) 24 इंच तक की डिस्क फिट की जाती है। यह डिस्क दो या तीन की संख्या में फिट की जाती है। आगे से दोनों ओर थ्री-प्वॉइण्ट लिंकेज से जुड़ने की व्यवस्था की जाती है। इसमें साइड पिन व टॉप लिंक के लिए छेद बने होते हैं। प्लाउ अच्छी प्रकार से कार्य कर सके, इसके लिए कुछ कम्पनियों द्वारा बीम पर पीछे की ओर 5 किलोग्राम से 10 किलोग्राम तक का भार लगाया जाता है एवं डिस्क अधिक गहराई तक न जाये इसके लिए कॉल्टर्स व्हील (caulter wheel) लगाया जाता है। कुछ कम्पनियाँ कॉल्टर्स व्हील सभी डिस्कों पर भी लगाती हैं। इससे ट्रैक्टर के ड्राफ्ट (खिंचाव) पर भी प्रभाव पड़ता है। इन सभी भागों की धात माइल्ड-स्टील होती है।
डिस्क प्लाउ बहुत समय से खाली पड़े खेत में खरपतवार, छोटी-छोटी झाड़ी आदि उत्पन्न होने पर उन्हें समाप्त करने के लिए प्रयोग करते हैं। इस खरपतवार से खेत की उर्वरक शक्ति समाप्त हो जाती है या कम हो जाती है। खरपतवार को समाप्त करने के लिए पहले उसे दरांती (हाथ से घास काटने वाला उपकरण), फावड़ा (हाथ से गहरी व कठोर जड़ों को निकालने वाला उपकरण) से काटकर वहीं छोड़ देते हैं। तदोपरान्त खेत की सिंचाई करते हैं। खेत जब जुताई के लिए तैयार हो जाये तो उसमें डिस्क प्लाउ का प्रयोग किया जाता है। एक बार में यह खेत की मिट्टी को कम-से-कम 12 इंच से 18 इंच तक पलट देता है, जिससे खरपतवार मिट्टी के नीचे दबाकर खाद (उर्वरक) का कार्य करती है। खेत की कुछ उर्वरक शक्ति भी नीचे से ऊपर आ जाती है। दोबारा जुताई से पहले खेत में कुछ उर्वरक डालकर जुताई करनी चाहिए, जिसमें दूसरी जुताई में खेत में उर्वरक अच्छी प्रकार मिल जायें। ट्रैक्टर में डिस्क-प्लाउ थ्री-प्वॉइण्ट पर लगाकर कार्य करता है। दोनों ओर लोअर लिंक और मध्य में टॉप लिंक से जोड़ा जाता है। लोअर लिंक इधर-उधर न हिले इसके लिए लिंक के दोनों ओर एडजस्टिंग चेन (adusting chain) लगी रहती है। इनको टाइट न रखने से जुताई करते समय ट्रैक्टर एक ओर को खिंचता महसूस होता है। डिस्क प्लाउ तीन डिस्कों में भी उपलब्ध होता है।

Back to top button