Answer for डीजल ईंधन आधारित इंजन कौन सा होता है ?

डीजल ईंधन आधारित इंजन भी एक प्रकार का अन्त: दहन इंजन है। इनमें ईंधन के रूप में डीजल ईंधन का उपयोग किया जाता है। पेट्रोल इंजन की तुलना में ये अधिक स्थान घेरते हैं तथा इन इंजनों में टार्क (torque) अधिक होता है, जिसके कारण इनमें प्रयुक्त भागों को मजबूत बनाया जाता है।

सिद्धान्त Principle
डीजल ईंधन आधारित इंजन में डीजल ईंधन का प्रयोग किया जाता है। डीजल इंजन दो एवं चार स्ट्रोक प्रकृति के इंजन होते हैं। ये इंजन डीजल चक्र पर आधारित होते हैं। सम्पीडित (कम्प्रैस्ड) इंजनों में डीजल एवं सम्पीडित वायु के मिश्रण को दहन कक्ष में प्रज्वलित. करके शक्ति अर्जित की जाती है।

कार्यवधि Working Method
डीजल इंजन की कार्यविधि डीजल चक्र इंजन (diesel cycle engine) के समान होती है। अत: इस इंजन की कार्यविधि प्रशिक्षु पूर्व में दी हुई डीजल चक्र इंजन को कार्यविधि का ही अध्ययन करें।

गैस ईंधन आधारित इंजन Gas Fuel Based Engine
गैस ईंधन आधारित इंजन भी एक प्रकार का अन्त: दहन इंजन है। इस इंजन में ईंधन के रूप में कोल गैस (coal gas), बायोगैस (biogas) या प्राकृतिक गैस (natural gas) का प्रयोग किया जाता है। इस कारण यह अन्य इंजनों; जैसे-पेट्रोल इंजन या डीजल इंजन से भिन्न है। इस इंजन में काबुरेटर या अन्तःक्षेपक (injector) के स्थान पर वेन्चुरी प्रणाली (venturisystem) का प्रयोग किया जाता है तथा ऊष्मीय दक्षता 35 से 40% तक होती है। इनका प्रयोग प्राय: यातायात साधनों; जैसे-कार, बस तथा टैम्पो में मुख्य रूप से किया जाता है।

सिद्धान्त Principle
गैस ईंधन आधारित इंजन में गैस ईंधन (सी.एन.जी., एल.पी.जी. आदि) का प्रयोग किया जाता है। ये इंजन भी दो अथवा चार स्ट्रोक क्षमता के होते हैं। इन इंजनों में वायु तथा ईंधन (गैस) के मिश्रण को दहन कक्ष में प्रज्वलित करके शक्ति अर्जित की जाती है।

ईंधन प्रज्वलन के आधार पर On the Basis of Fuel Ignition
ईंधन दहन कक्ष में ईंधन के प्रज्वलन के पश्चात् ही दहन आरम्भ होता है, जिसके फलस्वरूप ऊष्मा की उत्पत्ति होती है, जिसका उपयोग यान्त्रिक कार्यों हेतु किया जाता है। इसके अन्तर्गत इंजनों को दो भागों में बाँटा गया है, जो इस प्रकार हैं

Back to top button