Answer for लॉकिंग युक्तियाँ किसे कहते है ?

Tकोई भी मशीन हो उस मशीन के चलने से कम्पन होता है। इससे नट व उससे लगे भाग ढीले हो जाते हैं तथा मशीन में आवाज आने लगती है। इससे बचने के लिए नट लॉक किए जाते हैं। नट लॉक करने के लि निम्नलिखित विधियाँ प्रयोग की जाती हैं

लॉक नट विधि Lock Nut Method
इसे चैक नट विधि भी कहा जाता है। इस विधि में सामान्य नट को पूरा कस दिया जाता है। इसके ऊपर एक लॉक नट और कस देते हैं तथा यह अपेक्षाकृत पतला होता है। इसकी है। यह नट सरलता से कम्पन होने की दशा में न खुलते हैं न ही ढीले होते हैं।

स्प्लिट पिन विधि Split Pin Method
इस विधि में एक पिन प्रयोग की जाती है, जिसे स्प्लिट पिन कहते हैं। यह पिन दोहरी मुड़ी होती है। इसकी एक साइड चपटी तथा एक साइड अर्द्ध-गोलाकर रहती है। इसका प्रयोग करने के लिए नट को पूरा कस दिया जाता है तथा बोल्ट में नट की सतह से मिला हुआ D का एक छेद आर-पार कर देते हैं और उस छेद में इस पिन को डालकर दूसरी तरफ इसकी दोनों टाँगों को विपरीत दिशाओं में मोड़ दिया जाता है।

कैसल नट विधि Castle Nut Method
इसमें ऊपर की ओर पतला कॉलर बना होता है, जिसमें आमने-सामने छ: स्लॉट कटे होते हैं। इसको नट टाइट करने के बाद किसी एक स्लॉट से बोल्ट में आर-पार छेद करके उसमें स्प्लिट पिन को फँसाकर मोड़ दिया जाता है।

स्लॉटिड नट विधि Slotted Nut Method
इस विधि में जो नट प्रयोग किया जाता है, उसमें कॉलर नहीं बना होता। इसमें भी कैसल नट की तरह स्लॉट कटे होते हैं तथा बोल्ट में आर-पार सुराख स्पिलट पिन फँसाई व मोड़ी जाती है।

पिन नट विधि Pin Nut Method
इस विधि में नट को पूरा टाइट करने के बाद चित्र के अनुसार नट की एक पहल से चिपका हुआ जॉब की सतह में एक ड्रिल होल बनाकर उसमें एक पिन लगा दी जाती है। यह पिन उस नट को घूमने नहीं देती है, परन्तु इस विधि में यदि नट को और टाइट करना हो तो पिन को निकालकर ही नट टाइट किया जा सकता है।

Back to top button