Answer for विभाजित प्रणालियाँ क्या होती है ?

यह ट्रैक्टर में ब्रेकिंग क्रिया के अन्तर्गत द्रष्टव्य ब्रेकिंग क्षमता है, जोकि ट्रैक्टर के भार पर निर्भर होती है। विभाजित प्रणाली के अन्तर्गत ट्रैक्टर के अगले एवं पिछले पहियों को एक साथ ब्रेक लगाकर विविध तरीकों से रोका जाता है। इसके अन्तर्गत चालक द्वारा लगाए गए ब्रेक बल को ट्रैक्टर के सभी पहियों पर एक साथ समान रूप से वितरित किया जा सकना सम्भव है। इसका लाभ समग्र बल के रूप में सामने आता है, जो ट्रैक्टर को तत्काल रोक देने में सक्षम होता है, जिससे दुर्घटना की आशंका नहीं रहती। नोट द्रवचलित प्रणाली के अन्य अवयवों के अध्ययन के लिये प्रशिक्षु ब्रेकिंग प्रणाली अवयव के अन्तर्गत मास्टर सिलेण्डर का अध्ययन करें।

मास्टर सिलेण्डर Master Cylinder
यह ब्रेक प्रणाली का मुख्य भाग है। इसी के द्वारा ब्रेक ऑयल में दबाव उत्पन्न किया जाता है। यह एक पिचकारी के समान कार्य करता है। इसमें ब्रेक पैडल का सम्बन्ध मास्टर सिलेण्डर की पुश रॉड से रहता है। ये तीन प्रकार के होते हैं

टैन्डम मास्टर सिलेण्डर Tandem Master Cylinder
इस प्रकार के मास्टर सिलेण्डर में परम्परागत एक पिस्टन के स्थान पर दो पिस्टनों का प्रयोग किया जाता है। इसके साथ ही इसमें दो आउटलेट मार्ग भी बने होते हैं। एक आउटलेट मार्ग द्वारा अगले दोनों पहियों के ब्रेकों को दबाव से तेल जा रे आउटलेट मार्ग से पिछले पहियों के (ब्रेकों को तेल जाता है।

सेन्टर वाल्व मास्टर सिलेण्डर Centre Valve Master Cylinder
इस प्रकार के मास्टर सिलेण्डर में चैक वाल्व, पिस्टन के आगे वाल्व की डण्डी (stem) पर ही लगा रहता है। इस प्रकार के कुछ मास्टर सिलेण्डरों में ब्रेक फ्लूइड का रिजर्वायर इसके साथ बना होता है, कुछ में अलग रहता है। इसमें जब ब्रेक पैडल दबता है, तो प्लंजर या पिस्टन आगे बढ़कर वाल्व सीट सप्लाई लाइन की पोर्ट को बन्द कर देता है तथा पिस्टन के आगे आया तेल दबाव के साथ व्हील सिलेण्डर में चला जाता है। जब ब्रेक पैडल पर से दबाव हट जाता है, तो सामान्य मास्टर सिलेण्डर की भाँति चैक वाल्व को सीट से हटाकर तेल वापस आ जाता है।

मरम्मत Repair
(i) मास्टर सिलेण्डर से पाइप खोलें। (ii) मास्टर सिलेण्डर को चेसिस से अलग करें।
(iii) स्टॉप लाइट स्विच व बैन्जो बोल्ट आदि खोलें। (iv) पुराना तेल निकाल दें।
(v) रबर कपों को हटाकर शेष भागों को पेट्रोल से साफ करें।
(vi) मास्टर सिलेण्डर के पोर्ट साफ करें।
(vii) पिस्टन व चैक वाल्व की जाँच करें।

Back to top button