Answer for साउंड से सम्बन्धित हार्डवेयर कौन से होते है

कम्प्यूटर में साउंड का प्रयोग करने के लिये हमारे पास दो हार्डवेयर विकल्प होते हैं। एक तो साउंड कार्ड जो कम्प्यूटर के मदरबोर्ड की एक्सपेंशन स्लॉट में लगता है और दूसरा वह साउंड चिप जो मदरबोर्ड में इन-बिल्ट किया जाता है।

⇨ कम्प्यूटर में साउंड को इनपट करने के लिये माइक की जरूरत होता है।

⇨ कम्प्यूटर में साउंड को प्रोसेस करने के लिये साउंड कार्ड की जरूरत होता है।

⇨ कम्प्यूटर से साउंड को आउटपुट के रूप में प्राप्त करने के लिये स्पीकरों की जरूरत होती है। कम्प्यूटर से चाहे स्पीकरों को जोड़ना हो या फिर माइक को सभी के लिये साउंड पोर्ट की जरूरत होती है। यह साउंड पोर्ट आपको कम्प्यूटर की सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट में मिलेगी। निम्न चित्र में आप इसे देख सकते हैं

⇨ कम्प्यूटर की साउंड पोर्ट, सिस्टम में साउंड कार्ड या मदरबोर्ड में लगी साउंड चिप की वजह से होती है। ⇨ साउंड कार्ड का प्रयोग काफी समय से किया जा रहा है और क्रियेटिव जैसे कम्पनियां इस साउंड कार्ड के निर्माण में नाम भी कमा चुकी हैं।

⇨ साउंड ब्लास्टर तकनीक का विकास क्रियेटिव नामक कम्पनी ने ही किया था।

⇨ वर्तमान समय में जो मदरबोर्ड आ रहे हैं उनमें साउंड पोर्ट इनबिल्ट होती है। यह सम्भव हुआ है मदरबोर्ड में लगी साउंड प्रोसेसिंग चिप की वजह से। निम्न चित्र में आप इस साउंड पोर्ट को देख सकते हैं

⇨ मदरबोर्ड की इस साउंड पोर्ट से स्पीकरों और माइक को जोड़ा जाता है जिससे साउंड इनपुट भी की जा सकती है और इसे आउटपुट के रूप में भी प्राप्त किया जा सकता है।

⇨ अब प्रश्न यह उठता है कि यदि मदरबोर्ड में साउंड पोर्ट होती है तो अलग से साउंड कार्ड की जरूरत क्या है। इसका उत्तर है कि सामान्य आवाज के लिये को मदरबोर्ड की साउंड चिप ठीक है लेकिन उन्नत किस्म की साउंड प्रोसेसिंग इससे सम्भव नहीं है।

⇨ उच्च क्वालिटी की साउंड इनपुट, आउटपुट और प्रोसेसिंग के लिये उन्नत किस्म के साउंड कार्ड की जरूरत होती है। यहां पर साउंड कार्ड भी अलग-अलग क्षमता के आते हैं। एक उन्नत क्वालिटी के साउंड कार्ड को आप निम्न चित्र में देख सकते हैं –

⇨ जिन सा रंड कार्डों का प्रयोग फिल्मों में आवाज से सम्बन्धित विशेष प्रभाव देने में किया जाता है वे और भी शक्तिशाली होते हैं और उनके लिये विशेष कम्प्यूटर प्रयोग होते हैं।

Back to top button