Answer for Plunger Type Oil Pump क्या होता है ?

इस प्रकार के पम्प का भी प्रयोग अब बहुत कम होता है। इस पम्प में एक प्लंजर होता है, जो पम्प की बॉडी में नीचे-ऊपर चलता है। प्लंजर के ऊपर जाने से इनलेट मार्ग से तेल खिंचकर पम्प में आ जाता है तथा प्लंजर के नीचे आने पर आउटलेट मार्ग से तेल इंजन की मेन ऑयल गैलरी में चला जाता है।
गियर व्हील टाइप ऑयल पम्प Gear Wheel Type Oil Pump इस प्रकार के ऑयल पम्प का प्रयोग सबसे अधिक किया जाता है। इस पम्प को प्राय: इंजन के नीचे लगे ऑयल पम्प के अन्दर लगाया जाता है। यह कैम शाफ्ट पर बने स्पाइरल (spiral) गियर द्वारा चलता है। यह पम्प इस प्रकार फिट रहता है कि इसका लटकने वाला छन्ना (screen) हमेशा तेल में डूबा रहे। इस पम्प में दो गियर प्रयोग किए जाते हैं, जिनके बीच में कम-से-कम अन्तर (gap) रहता है। दोनों गियर एक केसिंग (casing) में फिट रहते हैं। एक गियर की शाफ्ट पम्प से बाहर निकली रहती है तथा उसी शाफ्ट की सहायता से वह गियर कैम शाफ्ट स्पाइरल गियर द्वारा घूमता है। जब कैम शाफ्ट घूमती है, तो पहले गियर द्वारा दूसरा सम्बन्धित गियर भी घूमने लगता है। केसिंग में दो पोर्ट बने होते हैं, एक इनलेट पोर्ट, दूसरा आउटलेट पोर्ट। इंजन के चलने से जब गियर घूमते हैं, तो इनलेट पोर्ट द्वारा तेल कक्ष का तेल खिंचकर पम्प हाउजिंग में आ जाता है तथा इन्हीं गियरों के द्वारा उस तेल पर दबाव पड़ता है, जिससे हाउजिंग में आया वह तेल दबाव के साथ इंजन की मेन ऑयल गैलरी में आ जाता है। मेन ऑयल गैलरी का सम्बन्ध फ्रैंक शाफ्ट में छेद (drill) किए तेल मार्गों से रहता है। इससे फ्रैंक शाफ्ट पर लगे मेन बियरिंग तथा बिग एण्ड बियरिंगों का स्नेहन होता है। फ्रैंक शाफ्ट की मेन बियरिंग सीट से कैम शाफ्ट बशों को तेल जाने का मार्ग बना होता है, जिससे कैम शाफ्ट बुशों का स्नेहन होता है। कैम शाफ्ट के एक बुश का सम्बन्ध टाइमिंग गियर तक बने तेल मार्ग से रहता है, जिससे बूंद-बूंद तेल टपक कर टाइमिंग गियर का स्नेहन होता है। गजन पिन स्नेहन के लिए कनेक्टिग रॉड में पूरी लम्बाई में एक डिल होल बनाया जाता है। जब बिग एण्ड बियरिंगों में तेल जाता है, तो यहाँ से यह तेल कनेक्टिंग रॉड के ड्रिल होल से गजन पिन तथा पिस्टन तक पहुँचता है जहाँ से वापस गिरते समय सिलेण्डर की दीवारों का स्नेहन करता है। जिन इंजनों में ओवरहैड वाल्व व्यवस्थापन होता है, उनमें मेन ऑयल गैलरी से एक पाइप रॉकर आर्म असेम्बली के लिए फिट किया जाता है। इस पाइप के द्वारा तेल पहुँचकर रॉकर आर्म असेम्बली तथा वाल्व एवं गाइड का स्नेहन करता है।

रोटर टाइप ऑयल पम्प Rotor Type Oil Pump
इस प्रकार के पम्प लगभग गियर व्हील टाइप ऑयल पम्प के समान होते हैं। इनमें दो रोटर; इनर व आउटर प्रयोग होते हैं। इनर रोटर आउटर रोटर के अन्दर फिट रहता है। इनर रोटर में चार लोब (lobes) होती हैं जबकि आउटर रोटर में पाँच लोब बनी होती हैं। दोनों रोटरों के अक्ष (axis) भिन्न-भिन्न होते हैं। अत: अन्दर से स्थान छोटे-बड़े रहते हैं। ये रोटर इंजन के चलने पर गियर व्हील टाइप ऑयल पम्प के समान घूमकर तेल को प्रेशर के साथ मेन ऑयल गैलरी तक पहुँचाते हैं। इस पम्प के साथ भी रिलीफ वाल्व की व्यवस्था की जाती है। रोटरों के मध्य 0.254 मिमी तथा रोटर व बॉडी के मध्य प्ले भी इतनी होनी चाहिए। एक्सियल प्ले 0.102 मिमी तक रह सकती है।

Back to top button