लाइनेक्स का फाइल सिस्टम कैसा होता है

DWQA QuestionsCategory: Questionsलाइनेक्स का फाइल सिस्टम कैसा होता है
itipapers Staff asked 2 years ago

लाइनेक्स का फाइल सिस्टम कैसा होता है टाइप्स ऑफ़ लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम लिनक्स के प्रकार Linux standard directories in hindi Linux file system in Hindi Vi editor in Linux in Hindi

1 Answers
itipapers Staff answered 1 year ago

विंडोज़ के विपरीत लाइनेक्स में सभी कुछ एक फाइल होता है, यहां तक कि इसमें बनायी जाने वाली डायरेक्ट्री भी एक फाइल होती है। चाहे इस डायरेक्टरी में और भी फाइलें हों, लेकिन लाइनेक्स के लिये यह भी अपने आप में एक फाइल है। सभी तरह के उपकरणों, चाहे वह इनपुट/आउटपुट उपकरण हों या फिर स्टोरेज डिवाइस सभी कुछ एक फाइल ही है। लाइनेक्स में फारवर्ड स्लैश का प्रयोग एक सेप्रेटर के तौर भी किया जाता है। उदाहरण के लिये एक सब डायरेक्टरी को यूजर डायरेक्टरी से अलग करने के लिये इसका प्रयोग किया जाता है। आइये लाइनेक्स के फाइल सिस्टम के मुख्य कम्पोनेन्ट्स को समझें

• /bin: इस डायरेक्टरी के अंतर्गत वे फाइलें होती हैं जिन्हें क्रियान्वित किया जा सकता है। ये बाइनरी फाइलें होती हैं। यदि आपको लाइनेक्स के किसी कमांड को सर्च करना है तो आप इसी डायरेक्टरी में उसे सर्च कर सकते हैं। जिस तरह से डॉस में एक्सटर्नल कमांड होते थे ठीक वैसे कमांड इसमें भी होते हैं।

• /dev: इस डायरेक्टरी के अंतर्गत वे फाइलें होती हैं जो हार्डवेयर उपकरणों को संचालित और नियंत्रित करती हैं। उदाहरण के लिये प्रिंटर इसमें एक prn नामक फाइल के रूप में होता है और हार्ड डिस्क hda नामक फाइल के रूप में। यदि हार्ड डिस्क में कई पार्टीशन है तो इसका पहला पार्टीशन hda0 नामक फाइल के रूप में होगा।

• /etc: इस डायरेक्टरी के अंतर्गत सम्पूर्ण कम्प्यूटर सिस्टम की कॉन्फीगुरेशन फाइलें होती हैं। ये फाइलें टेक्स्ट फाइलों के रूप में होती हैं और समस्त सूचनायें टेक्स्ट में लिखी होती हैं।

• /lib: इस डायरेक्टरी के अंतर्गत लाइब्रेरी फाइल्स होती हैं। इन फाइलों में प्रोग्रामर के द्वारा प्रयोग किये जाने वाले रूटीन होते हैं और वे फंक्शन होते हैं जिनका दोबारा प्रयोग किया जा सकता है। /tmp: इस डायरेक्टरी में वे टेम्प्रेरी फाइलें होती हैं जिनका निर्माण प्रोग्रामों के क्रियान्वयन से होता है और इन्हें डिलीट करने से सिस्टम की कार्य प्रणाली पर कोई फर्क नहीं पड़ता है।

• /usr: इस डायरेक्टरी में यूजर से सम्बन्धित होम डायरेक्टरी होती है जिसमें टेक्स्ट और गेम्स जैसे फाइलें होती हैं जिनका सीधा सम्बन्ध यूजर से होता है। इसके अंतर्गत बनने वाली डायरेक्टरी का नाम भी यूजर के नाम पर ही आधारित होता है।

• /kernel: इस डायरेक्टरी में वह कोड होते हैं जिन्हें मेमोरी में प्रोग्राम लोड करने के लिये बनाया जाता है। करनेल लाइनेक्स का दिल होता है और यह सिस्टम के लो-लेवल हार्डवेयर इंटरफेस, रिसोर्स एप्लीकेशन और सिक्योरिटी के लिये जिम्मेदार होता है।

• /mnt: इस डायरेक्टरी में हार्ड डिस्क के अलावा सभी तरह के हार्डवेयर जैसे कि सीडी ड्राइव, डीवीडी ड्राइव, पेन ड्राइव या फ्लॉपी ड्राइव को कम्प्यूटर से माउंट करने में सहायक फाइलें होती हैं। इसके अंतर्गत हार्डवेयर के नाम से सम्बन्धित सब डायरेक्टरियां होती हैं।

Back to top button