Question Paper

ITI CHNM Theory – Control and Monitoring of a Network Devices

ITI CHNM Theory – Control and Monitoring of a Network Devices

नेटवर्क मॉनिटरिंग, नेटवर्क प्रबंधन के बारे में जानकारी है। यह नेटवर्क प्रबंधन के लिए आवश्यक जानकारी देता है। डाटा एकत्र करने और नेटवर्क मैनेजमेंट के लिए मॉनिटरिंग एप्लिकेशन बनाए जाते हैं। अधिकांश नेटवर्क डिवाइस दूरस्थ स्थानों पर स्थित होती हैं। आम तौर पर ये उपकरण सीधे टर्मिनलों से जुड़े नहीं होते।

नेटवर्क कंट्रोल एक कंप्यूटर नेटवर्क समाधान है जो प्रोटोकॉल के एक समूह को परिभाषित और लागू करता है, जो बताता है कि डिवाइस नेटवर्क नोड्स तक पहुंचने से कैसे रोका जाए, जब वे पहली बार नेटवर्क तक पहुंचने की कोशिश करते हैं।

नेटवर्क डिवाइस का निरीक्षण

उस नेटवर्क के सभी कम्प्यूटरों पर निगरानी रखना, डाटा और नेटवर्क की सुरक्षा के लिए, नेटवर्क डिवाइस निरीक्षण (Network Device Monitoring) सबसे महत्वपूर्ण है। इस तरह की सावधानी नहीं दी गई तो डाटा या नेटवर्क हैक होने का खतरा हमेशा रहता है। इसके अलावा, नेटवर्क को सुचारू रूप से चलाने के लिए और भी कई बाते हैं।

(i) डाटा डिवाइसों ने कितनी बैंडविड्थ का उपयोग किया है?
(ii) नेटवर्क पर डाटा कैसे भेजा जाता है, आदि

जब आपके नेटवर्क पर सभी डिवाइस आपके राउटर के माध्यम से इंटरनेट से जुड़े हैं, तो बैंडविड्थ उपयोग और डाटा स्थानांतरण की निगरानी महत्वपूर्ण है। नेटवर्क की निगरानी भी कैमरों से की जा सकती है।

ITI CHNM Theory – Control and Monitoring of a Network Devices Question Answer

कम्प्यूटर नेटवर्क है –
(a) संसाधनों और सूचना का आदान प्रदान
(b) संचार चैनल से जुडा
(c) हार्डवेयर घटकों और कंप्यूटर का संग्रह
(d) उपरोक्त सभी

Answer

उपरोक्त सभी

प्रोटोकॉल है –
(a) संचार उपकरणों और डीटीई पर समझौते
(b) लॉजिकल संचार स्थानांतरित करने के लिए इस्तेमाल किये जाने वाले चैनल
(c) फिजिकल संचार स्थानांतरित करने के लिए इस्तेमाल किये जाने वाले चैनल
(d) उपरोक्त में से कोई नहीं

Answer

संचार उपकरणों और डीटीई पर समझौते

एक उच्च गति संचार उपकरण आमतौर पर _______ के लिए आवश्यक नहीं होगा I
(a) ईमेल
(b) बड़ी मात्रा में डाटा का हस्तांतरण
(c) एक लैन में नोड्स के बीच संचार को सपोर्ट करना
(d) उपरोक्त सभी

Answer

ईमेल

Question 1. SMPT या सिम्पल मेल ट्रांसफर प्रोटोकॉल से आप क्या समझते हैं?
उत्तर. इस प्रोटोकॉल को ईमेल के माध्यम से लागू किया जाता है। इस्तेमाल किया जाता है जब किसी ई-मेल क्लाइंट, जैसे आउटलुक, एक ई-मेल सर्वर से दूसरे पर ई-मेल भेजता है। यह प्रोटोकॉल हमेशा पोर्ट 25 का उपयोग करता है। यह एक टेक्स्ट-आधारित, ओरियेन्टेड कनेक्शन प्रोटोकॉल है जो मेल भेजने वाले को मेल प्राप्त करने वाले से कम्युनीकेट करता है।

Question  2.FTP या फाइल ट्रांसफर प्रोटोकॉल से आप क्या समझते हैं?
उत्तर. यह एक सामान्य नेटवर्क प्रोटोकॉल है जो कम्प्यूटर फाइलों को एक होस्ट कम्प्यूटर से दूसरे होस्ट कम्प्यूटर पर टीसीपी आधारित नेटवर्क (जैसे इंटरनेट) पर भेज सकता है।

Question  3. FTP मोड से आप क्या समझते हैं?
उत्तर. FTP एक्टिव और पैसिव दोनों मोड में काम करता है। यह डेटा कनेक्शन की प्रकृति पर निर्भर करता है। इन दोनों मामलों में, क्लाइंट TCP द्वारा नियंत्रित कनेक्शन को क्रियेट करता है। इसमें FTP सर्वर किसी भी पोर्ट से कमांड पोर्ट 21 को भेजता है। Active Mode में ग्राहक आने वाले डेटा को सर्वर पोर्ट से सुनना शुरू करता है। ये विशिष्ट पोर्ट पर FTP कमांड भेजता है और सर्वर को पोर्ट सुनने की जानकारी देता है।

Question  4. HTTP या हाइपर टेक्स्ट ट्रांसफर प्रोटोकॉल से आप क्या समझते हैं?
उत्तर. यह विश्वव्यापी वेब पर डेटा गणना के लिए एक फाउंडेशन है। यह एक कार्यान्वयन प्रोटोकॉल है जो डिस्ट्रीब्यूशन, कॉलीबोरेशन और हाइपर मीडिया इंफॉरमेशन प्रणालियों में लागू होता है। हाइपर टेक्स्ट और स्ट्रक्चर्ड टेक्स्ट दोनों में लॉजिकल लिंक होते हैं। इन हाइपर लिंक्स को लॉजिकल लिंक्स कहते हैं। ये नोड्स और पाठ के मध्य में काम करते हैं।

Question 5.SNMP से आप क्या समझते हैं?
उत्तर. यह एक इंटरनेट स्टैडर्ड प्रोटोकॉल है जो IP नेटवर्क पर डिवाइसों को नियंत्रित करता है। राउटर, स्विच, सर्वर, वर्कस्टेशन, प्रिंटर्स और मॉडेम सब इस प्रोटोकॉल को सपोर्ट करते हैं। यह नेटवर्क मैनेजमेंट सिस्टम में सबसे प्रचलित प्रोटोकॉल है, जो नेटवर्क से जुड़े डिवाइसों को नियंत्रित करता है और प्रशासनिक अटैन्शन देता है।

Question 6. LDAP से आप क्या समझते हैं?
उत्तर. यह एक ओपन वेंडर नेचुरल, व्यावसायिक मानक अनुप्रयोग प्रोटोकॉल है। इसका उद्देश्य डिस्ट्रीब्यूटेड डायरेक्टरी इंफॉरमेशन सिस्टम को इंटरनेट प्रोटोकॉल नेटवर्क पर पहुँच और संचालन करना है। डायरेक्टरी सेवाएं इंटरनेट और इंटरनेट एपीकेशनों के विकास में बहुत महत्वपूर्ण हैं क्योंकि वे सूचनाओं को यूजर, सिस्टम्स, नेटवर्क्स और सेवाओं के मध्य सम्पूर्ण नेटवर्क पर शेयर करने में काम करती हैं।

Question 7.DHCP या डायनामिक होस्ट कंट्रोल प्रोटोकॉल से आप क्या समझते हैं?
उत्तर. यह भी एक मानकीकृत या स्टैंडर्ड प्रोटोकॉल है जो कॉन्फीगुरेशन पैरामीटरों को इंटरनेट प्रोटोकॉल (आईपी नेटवर्क) पर गतिशीलता के साथ विभाजित करता है। यह नेटवर्क पैरामीटरों और आईपी एड्रेसों को ऑटोमेटिक रूप से पक्तक सर्वर से मांगता है। इससे यूजर स्वचालित रूप से सेटिंग को नियंत्रित करता है, नेटवर्क मैनेजर की आवश्यकता नहीं होती।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Discover more from ITI Paper

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading