Question Paper

ITI CHNM Theory – Resistors Question Answer in Hindi

ITI CHNM Theory – Resistors Question Answer in Hindi

क्योंकि प्रत्येक क्रिया की प्रतिक्रिया होती है, प्रत्येक पदार्थ विद्युत धारा प्रवाह का विरोध कर सकता है। “प्रतिरोधक” शब्द का उपयोग किसी पदार्थ के टुकड़े या उससे बने तार के एक हिस्से को करने के लिए किया जाता है।विभिन्न विद्युत परिपथों के लिए भी प्रतिरोधक आवश्यक हैं, जैसे फैन रेगुलेटर, डीसी जनरेटर का वोल्टेज रेगुलेटर, फ्लोरोसेंट ट्यूब का डीसी परिपथ, नियॉन टेस्टर आदि।

यह पुर्जा किसी परिपथ में आवश्यक मान का प्रतिरोध प्रदान करता है, विधुत धारा प्रवाह का मान नियंत्रित करता है, जिससे वोल्टेज कम होता है।

लोड के रूप में, फीडबैक एलीमेन्ट के रूप में, इनपुट सप्लाई हटाने के बाद आवेशित संधारित्र को डिस्चार्ज करने में, किसी परिपथ से प्रवाहित विद्युत धारा का मान पता लगाने में और उसमें प्रवाहित विद्युत धारा का मान कम करने में इसका उपयोग किया जाता है।

इलेक्ट्रॉनों के प्रवाह को बाधित करने वाली पदार्थ की विशेषता को प्रतिरोध कहते हैं। Ω (Ohm) इसे दिखाता है। जैसे मेगा ओह्म (106) और माइक्रो ओह्म (10-6)

ITI CHNM Theory – Resistors Question Answer in Hindi

कार्बन प्रतिरोधक के लिए 5 के लिए निम्न में से कौन सा रंग होता है ?
(a) हरा
(b) काला
(c) नारंगी
(d) ग्रे

Answer

हरा

एक 10ᘯ का प्रतिरोधक 15ᘯ के प्रतिरोधक के साथ समान्तर क्रम में जुड़ा है तथा संयोजित रूप से 12ᘯके प्रतिरोध के साथ श्रेणी क्रम में जुड़ा है। परिपथ का समतुल्य प्रतिरोध क्या होगा ?
(a) 37ᘯ
(b) 18ᘯ
(c) 27ᘯ
(d) 4ᘯ

Answer

18ᘯ

जब (1/3) ᘯ एक प्रतिरोधक समांतर श्रेणी में एक (1/4) ᘯ के प्रतिरोधक के साथ जुड़ा है, तो समतुल्य प्रतिरोध कितना होगा ?
(a) 1/7ᘯ
(b) 7ᘯ
(c) 1/12ᘯ
(d) 3/4ᘯ

Answer

1/7ᘯ

सिग्नल भेजते समय लोड के स्रोत से इम्पीडेंस मैच तैयार करना क्यों महत्वपूर्ण है?
(a) बाह्य ध्वनि कम करने के लिए
(b) लाइन को संतुलित रखने के लिए
(c) परावर्तित ऊर्जा को कम करने के लिए
(d) क्षीणन कम करने के लिए

Answer

परावर्तित ऊर्जा को कम करने के लिए

निम्न में से किसे संकेत XL के द्वारा निरूपित किया जाता है?
(a) लोड का इम्पीडेंस
(b) कॉइल का रियक्टेंस
(c) फिल्टर की प्रतिध्वनि आवृत्ति
(d) स्रोत का आउटपुट लेवल

Answer

कॉइल का रियक्टेंस

नॉमिनल वैल्यू 7.2 Kᘯ ± 10% के प्रतिरोध का कलर कोड निम्न होता है?
(a) लाल, बैंगनी, लाल तथा रजत
(b) लाल, बैंगनी, पीला तथा स्वर्ण
(c) लाल, बैंगनी, नारंगी तथा रजत
(d) लाल, बैंगनी, लाल तथा स्वर्ण

Answer

लाल, बैंगनी, लाल तथा रजत

ओह्म के नियम को व्यक्त किया जाता है।
(a) R = V/I
(b) V = R/I
(c) I = R/V
(d) R = V x I

Answer

R = V/I

जब विभिन्न प्रतिरोधों के सिरे से सिरे जोड़े जाते हैं तो उसे ……. जोड़ा कहा जाता है।
(a) समानान्तर
(b) श्रेणी–समानान्तर
(C) समानान्तर–श्रेणी
(d) श्रेणी

Answer

श्रेणी

75 ओहम प्रतिरोध और 200mA धारा खींचने वाले एक बल्ब के द्वारा खपत की जाने वाली शक्ति होगी
(a) 30 वाट
(b) 15 वाट
(c) 3 वाट
(d) 0.3 वाट

Answer

0.3 वाट

किरचॉफ के नियम ओहम के नियम से अधिक व्यापक होता है, जिसे …… हल करने के लिए उपयोग किया जाता है।
(a) विद्युत चालकता
(b) विद्युत तापमान गुणांक
(c) विद्युत प्रतिरोध नेटवर्क
(d) विद्युत नेटवर्क

Answer

विद्युत तापमान गुणांक :

CGS पद्धति में चुम्बकीय फ्लक्स की इकाई होती है
(a) वेबर
(b) मैक्सवेल
(c) टेस्ला
(d) ओर्सटेड (Oersted)

Answer

मैक्सवेल

एक 18 VD.C की पावर सप्लाई क्वॉइल में 180 2के वाइन्डिंगरेजिस्टेन्स के साथ जुड़ी हुई है। क्वॉइल का करंट फ्लो होगा
(a) 10 mA
(b) 100 mA
(c) 1000 mA
(d) 100A

Answer

100 mA

हरे, काले, गोल्ड और सिल्वर रंगो की पट्टियों वाले, जो बाएंसे दाएं हैं, ऐसे कार्बन – कम्पोजिशन रजिस्टर के रजिस्टेन्स तथा टोलरेन्स …… होते हैं।
(a) 50 ohm ± 10%
(b) 5ohm ± 5%
(c) 5ohm ± 10%
(d) 0.5 ohm ± 5%

Answer

5ohm ± 10%

कार्बन रजिस्टर्स के लिए, गहरे रंग सामान्यतः ……. के करीब की वैल्यू के होते हैं।
(a) 1
(b) 5
(c) 8
(d) 9

Answer

1

सिंपल DC सर्किट जो कॉन्स्टेन्ट सहित है, उसमें, जहां रजिस्टेन्स बढ़ता है, करंट
(a) घटता है।
(b) बढ़ता है।
(c) थमता है।
(d) समान होगा

Answer

घटता है।

एक तार की प्रतिरोधकता …….. पर निर्भर करती है।
(a) लम्बाई
(b) पदार्थ
(c) क्रॉस सेक्शन एरिया
(d) उपरोक्त में से कोई नहीं

Answer

पदार्थ

जब प्रत्येक r के n प्रतिरोध समानान्तर क्रम में जोड़े जाते हैं तपरिणामी प्रतिरोध x होता है जब इन प्रतिरोधी को श्रेणी क्रम में जोड़ा जाता है तो कुल प्रतिरोध होगा
(a) Nx
(b) Rnx
(c) x/n
(d) n2x

Answer

n2x

एक तार का प्रतिरोध : ओह्म है। यदि तार को इसके लम्बाई में डबल खींचा जाता है तब इसका प्रतिरोध ओह्य में होगा?
(a) r/2
(b) 4r
(c) 2r
(d) r/4

Answer

2r

किरचॉफ का द्वितीय नियम ……… संरक्षण नियम पर आधारित हैं।
(a) आवेश
(b) ऊर्जा
(c) संवेग
(d) द्रव्यमान

Answer

ऊर्जा

लाल, बैंगनी, लाल एवं सिल्वर कलर की पट्टी वाले एकरजिस्टर का मान होगा
(a) 2.7K ± 10%K
(b) 2.7 M ± 10%K
(c) 270 K ± 5%K
(d) 2.7K ± 42%K

Answer

2.7K ± 10%K

प्रतिरोधक की कलर कोडिंग

जिन प्रतिरोधकों का आकार बड़ा होता है, उनका मान प्रतिरोधक बॉडी पर प्रिंट (Print) कर दिया जाता है, परंतु वह प्रतिरोधक (Resistors) जिनका आकार बहुत छोटा होता है, उन पर प्रतिरोधक के मानों को प्रिंट करना आसान नहीं होता है, साथ ही सर्किट में लगे प्रतिरोधक का मान किसी कारणवश मिट जाने के कारण उनके मानों को पढ़ पाना आसान नहीं होता है.

रंग (Colour Tolerance) पहला अंक (1stDigit) दूसरा अंक (2nd Digit) गुणांक (Multiplier) टॉलरेंस
काला (Black) 0 100
भूरा (Brown) 1 1 101
लाल (Red) 2 2 102
नारंगी (Orange) 3 3 103
पीला (Yellow) 4 4 104
हरा (Green) 5 5 105
नीला (Blue) 6 6 106
बैंगनी (Violet) 7 7 107
धूसर (Gray) 8 8 108
सफेद (White) 9 9 109
सुनहरा (Golden) 10-1 ±5%
चांदी (Silver) 10-2 ±10%
रंगहीन (No color) ±20%

अतः इन्हीं कारणों से प्रतिरोधकों की कलर कोडिंग की आवश्यकता होती है। भिन्न-भिन्न उपयोगी विद्युत परिपथों में भिन्न-भिन्न मान के प्रतिरोधक प्रयुक्त किए जाते हैं। प्रतिरोधकों की कलर कोडिंग निम्न तथ्यों को ध्यान में रखकर की जाती है। घटकों और तारों के मान, और उनके कार्यों को पहचानने के लिए कलर कोडिंग का उपयोग किया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Discover more from ITI Paper

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading