Answer for इंटरनेट प्रोटोकॉल वर्जन 4 क्या होता है

– यह इंटरनेट प्रोटोकॉल अर्थात IP का चौथा संस्करण है। यह इंटरनेट में प्रयोग किया जाने वाला एक कोर प्रोटोकॉल है जो किसी स्टैंडर्ड पर आधारित होता है और इसे इंटरनेटवर्किंग विधि में प्रयोग किया जाता है। इसका विकास 1983 में ARPANET के द्वारा किया गया था।
 
वर्तमान समय में भी इस प्रोटोकॉल का प्रयोग करके इंटरनेट के ज्यादातर ट्रैफिक को राउट किया जाता है या मार्ग प्रदान किया जाता है।
 
– इस प्रोटोकॉल को जब पैकेट स्विच्ड नेटवर्क पर प्रयोग करते हैं तो यह कनेक्शन विहीन होता है। यह सबसे बेहतरीन डिलीवरी मॉडल को ऑपरेट करता है फिर भी यह इस बात की कोई गारंटी नहीं देता है कि पैकेट की डिलीवरी सही ढंग से होगी या डुप्लीकेट डिलीवरी नहीं होगी।
 
– इस परिपेक्ष्य में अपरलेयर ट्रांसपोर्ट प्रोटोकॉल जैसे कि ट्रांसमिशन कंट्रोल प्रोटोकॉल (TCP) को डेटा इंटीग्रिटी को एड्रेस करना होता है। An IPv4 address (dotted-decimal notation) 172 . 16 . 254 .
 
– यह प्रोटोकॉल 32 बिट या 4 बाइट एड्रेस को प्रयोग करता है। इसकी एड्रेस स्पेस सीमा 4294967296 (232) होती है। यह प्राइवेट नेटवर्कों के लिये विशेष एड्रेस ब्लाक्स को रिजर्व करके रखती है। इसमें प्राइवेट नेटवर्क के लिये 18 मिलियन और मल्टीकास्ट एड्रेसों के लिये 270 मिलियन एड्रेस होते हैं।

Back to top button