कनेक्टर और जम्पर किसे कहते है

DWQA QuestionsCategory: Questionsकनेक्टर और जम्पर किसे कहते है
itipapers Staff asked 2 years ago

कनेक्टर और जम्पर किसे कहते है कनेक्टर कितने प्रकार के होते हैं इलेक्ट्रॉनिक कंपोनेंट्स इन हिंदी Electronic components definition इलेक्ट्रॉनिक कंपोनेंट्स लिस्ट केबल किसे कहते हैं इलेक्ट्रॉनिक कंपोनेंट्स लिस्ट pdf Hindi इलेक्ट्रॉनिक का अर्थ इलेक्ट्रॉनिक कंपोनेंट्स लिस्ट PDF

1 Answers
itipapers Staff answered 12 months ago

जैसाकि आप पढ़ चुके हैं कि मदरबोर्ड में लगे जम्परों और कनेक्टरों का बहुत महत्व होता है। आइये अब एक-एक करके इनका अध्ययन करें

PS/2 माउस कनेक्टर: मदरबोर्ड में आपको हरे रंग का एक PS/ 2 माउस कनेक्टर मिलेगा। इससे आप वैकल्पिक माउस को जोड़ सकते हैं। AT पॉवर सप्लाई कनेक्टरः यह कनेक्टर मदरबोर्ड में पॉवर सप्लाई के लिए प्रयोग किया जाता है। आपको 250 वाट की पॉवर सप्लाई का प्रयोग करना होगा। पॉवर सप्लाई में दो कनेक्टर होते हैं जब आप इन्हें मदरबोर्ड से जोड़ें तो इस बात का ध्यान रखें कि काले तार मध्य में रहें।

ATX पॉवर सप्लाई कनेक्टर: इस कनेक्टर के द्वारा आप मदरबोर्ड में ATX प्रकार की पॉवर सप्लाई से विद्युत आपूर्ति कर सकते हैं। इसके लिए भी 250 वाट की पॉवर सप्लाई होनी चाहिए।

पैरलल पोर्ट कनेक्टर: मदरबोर्ड में लगे इस कनेक्टर में आप पैरलल पोर्ट ब्रैकेट को लगा सकते हैं। आमतौर पर इसका प्रयोग कम्प्यूटर से प्रिंटर को जोड़ने के लिए किया जाता है। आप इस पोर्ट को BIOS CMOS सेटअप यूटीलिटी से कई अलग-अलग मोड में प्रयोग कर सकते हैं।

सीरियल कनेक्टरः मदरबोर्ड में COM1 और COM2 नामक दो कनेक्टर होते हैं। इनसे आप सीरियल पोर्ट ब्रैकेट को जोड़ सकते हैं। इनका प्रयोग माउस और मॉडेम के लिए किया जाता है। इसके अलावा डिजिटल कैमरा, स्कैनर और ऐसे ही कुछ दूसरी डिवाइस को भी यहां जोड़ा जा सकता है। इन दोनों कनेक्टरों में एक जैसे पिन होते हैं।

वीजीए डिस्प्ले कनेक्टर: मॉनीटर को जोड़ने के लिए मदरबोर्ड में VGA डिस्प्ले पोर्ट होती है। इस पोर्ट से आप डिस्प्ले ब्रैकेट को जोड़ सकते हैं।

USB कनेक्टर: मदरबोर्ड में यह कनेक्टर काले रंग से बना होता है और आप इसमें यूनीवर्सल सीरियल बस कनेक्टर जोड़ सकते हैं। संख्या में यह दो होते हैं और इनका नामक क्रमश: USB1 तथा USB2 होता है।

ऑडियो और गेम पोर्ट पिन हैडर: इस हैडर से आप ऑडियो पोर्ट को जोड़ सकते हैं। इसमें स्टीरियो लाइन आउट, स्टीरियो लाइनइन, माइक्रो फोन और एक गेम पोर्ट होता है जिसमें आप जॉय स्टिक या MIDI उपकरण जोड़ सकते हैं।

IrDA-IR (इन्फ्रारेड) कनेक्टरः इससे आप इन्फ्रारेड पोर्ट मॉड्यूल (रिमोट सिस्टम) को जोड़ सकते हैं। प्रिंटर और मॉडेम जैसे उपकरण इसके जरिये कम्प्यूटर से जुड़ते हैं।

WOL-वेकअप ऑन लैन कनेक्टरः इस कनेक्टर का प्रयोग NIC अर्थात नेटवर्क इंटरफेस कार्ड को जोड़ने के लिए किया जाता है। यह मदरबोर्ड के WOL फंक्शन को सपोर्ट करता है। इसे सक्रिय करके आप कम्प्यूटर नेटवर्क को आसानी से मैनेज कर सकते हैं।

JP1 और JP11 जम्परः यह दोनों जम्पर सीपीयू के प्रकार को चुनने के लिए प्रयोग किए जाते हैं। इनके द्वारा ही आप यह तय करते हैं कि प्रोसेसर सॉकेट 370 में लगेगा या फिर स्लॉट1 में। मदरबोर्ड का JP21 जम्पर भी इसी कार्य में प्रयोग किया जाता है।

JP2 जम्परः इसका प्रयोग की-बोर्ड पॉवर को किसी हॉट की या माउस बटन के द्वारा सक्रिय करने के लिए किया जाता है।

JP3 जम्पर: इस जम्पर का प्रयोग BIOS में स्टोर कंटेंट को साफ करने के लिए किया जाता है। यह करेंट सिस्टम कॉन्फीगुरेशन के डेटा को साफ कर देता है। JP4 जम्परः इस जम्पर का प्रयोग मदरबोर्ड पर उपलब्ध AC97 साउंड स्विच को सक्रिय या निष्क्रिय करने के लिए करते हैं।

JP9 जम्पर: इस जम्पर के द्वारा आप मदरबोर्ड की बाहरी बस स्क्रीन को निर्धारित कर सकते हैं। इसे वास्तव में दो गतियों को सेट करने के लिए प्रयोग किया जाता है। JP21 जम्परः इस जम्पर के द्वारा आप सीपीयू के सॉकेट को स्लेक्ट कर सकते हैं। आप सीपीयू को सॉकेट-370 में लगाना चाहते हैं या स्लॉट-1 में, इसका निर्धारण यह जम्पर करता है। पैनल कनेक्टर जम्परः सभी कम्प्यूटर कैबिनेटों में पॉवर स्विच, पॉवर LED, रि-सेट बटन, सस्पेंड स्विच, सस्पेंड LED, स्पीकर, की-लॉक और हार्ड डिस्क ड्राइव LED होती हैं। इन सबको मदरबोर्ड में बने कनेक्टरों या जम्परों से जोड़ा जाता है।

CPU FAN कनेक्टर: मदरबोर्ड में दो या तीन प्रकार के CPU फैन कनेक्टर होते हैं इनसे आप सीपीयू के ऊपर लगे पंखे को जोड़ सकते हैं। जिससे फैन चलता रहे और प्रोसेसर ठंडा बना रहे।

CPU वोल्टेज कनेक्टरः मदरबोर्ड में लगा सॉकेट-370 जोकि प्रोसेसर के लिए होता है, 100 और 66 मेगाहर्ट्ज की बाहरी बस फ्रिक्वेंसी को सपोर्ट करता है। लेकिन सभी इंटेल पेंटियम प्रोसेसर इन दोनों फ्रिक्वेंसियों को सपोर्ट नहीं करते हैं। इसलिए आप प्रोसेसर के साथ आए मैनुअल को ध्यान से पढ़ें और इसके बाद ही मदरबोर्ड के बस स्पीड को सेट करें। आमतौर पर मदरबोर्ड सीपीयू के वोल्टेज को बिना किसी जम्पर सेटिंग के अपने आप ही समझ जाता है। इसलिए आप केवल सॉकेट-370 में सीपीयू को लगा दें और शेष कार्य यह अपने आप कर लेगा। आप क्लॉक फ्रिक्वेंसी को BIOS सेटअप से बदल सकते हैं।

Back to top button