मदरबोर्ड की बॉयोस अपग्रेड कैसे करे

DWQA QuestionsCategory: Questionsमदरबोर्ड की बॉयोस अपग्रेड कैसे करे
itipapers Staff asked 2 years ago

मदरबोर्ड की बॉयोस अपग्रेड कैसे करे How to tell if your motherboard needs a BIOS update How to update BIOS of dead motherboard How to update your BIOS for a new CPU Can we change BIOS of laptop Bios update for Zebronics motherboard How to make sure your motherboard is up to date How to update Colorful motherboard BIOS How to install BIOS on a new motherboard

1 Answers
itipapers Staff answered 12 months ago

जैसाकि आप जानते हैं कि मदरबोर्ड में बॉयोस एक महत्वपूर्ण कम्पोनेन्ट होता है। इसमें एक ऐसा सॉफ्टवेयर होता है जो कम्प्यूटर के ऑन होते ही उसकी सम्पूर्ण जांच करता है और ऑपरेटिंग सिस्टम का प्रयोग करके कम्प्यूटर की बूटिंग भी करता है। कई बार सम्पूर्ण मदरबोर्ड को बदलने की जरूरत नहीं होती है केवल बॉयोस को अपग्रेड करके भी काम चल जाता है।

उदाहरण के लिये आपके सिस्टम में जो बॉयोस लगी है उसमें फ्लॉपी डिस्क से बूटिंग का विकल्प है, लेकिन आज की तारीख में फ्लॉपी डिस्क का प्रयोग नहीं किया जाता है। ऐसे में यदि आप मदरबोर्ड की बॉयोस बदलकर ऐसी बॉयोस लगा लें जिसके सॉफ्टवेयर में सीडी या डीवीडी से बूटिंग कराने की सुविधा निहित हो तो आपका मदरबोर्ड काफी हद तक आज के समय के अनुकूल हो सकता है। मदरबोर्ड की बॉयोस को अपग्रेड करने का काम आप निम्न प्रकार से कर सकते हैं-

⇨ वर्तमान समय में इस तरह की बॉयोस चिप बहुत ही कम मदरबोर्ड में लगी : होती है। आप सबसे पहले इस बॉयोस चिप को करेंट प्रदान करने वाली| बैटरी को मदरबोर्ड से अलग करें।

⇨ जब बैटरी मदरबोर्ड से अलग हो जाये। तो नयी बॉयोस चिप को मदरबोर्ड में लगा दे। यहां पर आपको यह बात ध्यान में रखनी होगी कि बॉयोस चिप भौतिक रूप से देखने में इसी तरह की हो जिससे कि इसी सॉकेट में फिट हो जाये।

⇨ आप बाजार से इसी रूप रेखा की EPROM चिप लेकर उसमें बॉयोस के नये सॉफ्टवेयर को राइट करा लें। कम्प्यूटर रिपेयरिंग और अपडेशन का काम करने वाली कम्पनियां यह सर्विस प्रदान करती हैं। आज के समय में जो नये मदरबोर्ड बाजार में उपलब्ध हैं उनमें निम्न प्रकार की बॉयोस चिप प्रयोग की जाती है

⇨ चूंकि आपका सिस्टम पुराना है अत: उसमें इस तरह की बॉयोस चिप का प्रयोग अपग्रेड करने के लिये नहीं हो सकता है। अत: बॉयोस चिप पुरानी ही प्रयोग करें और उसमें सॉफ्टवेयर नया लोड करवा लें।

⇨ नये सॉफ्टवेयर वाली चिप को मदरबोर्ड में लगायें और फिर इसकी बैटरी को लगाकर सिस्टम को ऑन करके देखें। यदि आपका सिस्टम इस नयी बॉयोस को स्वीकार करके काम रह रहा है तो कैबिनेट के कवर को बंद कर दें। इस तरह से केवल बॉयोस को अपग्रेड करके आप काफी पैसे की बचत कर सकते हैं और मदरबोर्ड को बदलने से बच सकते हैं।

Back to top button