सीरियल ATA (साटा) इंटरफेस किसे कहते है

DWQA QuestionsCategory: Questionsसीरियल ATA (साटा) इंटरफेस किसे कहते है
itipapers Staff asked 2 years ago

सीरियल ATA (साटा) इंटरफेस किसे कहते है Serial ATA meaning Serial ATA Controller driver Windows 10 Serial ATA function Serial ATA interface Serial ATA connector Serial ATA port Serial ATA vs SATA Serial ATA Power Cable

1 Answers
itipapers Staff answered 12 months ago

वर्तमान समय में हार्ड डिस्क को मदरबोर्ड से जोड़ने के लिये SATA इंटरफेस का प्रयोग किया जाता है। इस तकनीक का विकास ATA-7 नामक पैरलल तकनीक के साथ ही हुआ था लेकिन इसकी डेटा ट्रांसफर गति को तेज होने की वजह से इसे ज्यादा प्रयोग किया जाने लगा और धीरे-धीरे PATA तकनीक वाली हार्ड डिस्क का चलन बंद हो गया। हार्ड डिस्क के साथ ही इस साटा तकनीक का प्रयोग CD/DVD ड्राइवों के लिये तथा अन्य ATAPI डिवाइसों के लिये हो रहा है।
यदि साटा और पाटा इंटरफेसों की भौतिक आकार की तुलना करें तो साटा केबल कम चौड़ी और छोटे केबल कनेक्टर के साथ होती है। इसके इंटरफेस चिप को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि इसे हार्ड डिस्क से आसानी से प्लग किया जा सकता है। इसके डिजाइन की वजह से ही इसमें वे समस्यायें नहीं रहीं जोकि PATA इंटरफेस के साथ आती थीं। SATA इंटरफेस तीन संस्करणों में आती है और ये निम्न हैं
600 इस इंटरफेस में जिस केबल का प्रयोग का होता है, वह एक बिट का प्रयोग करती है। इसमें सात तारों का प्रयोग होता है और इसका कनेक्टर मात्र 14mm का होता है। इसमें कोई भी मास्टर और स्लेव की सेटिंग नहीं होती है। इस केबल को दोनों सिरे एक जैसे होते हैं। इस केबल की लंबाई अधिकतम एक मीटर तक होती है। यदि इसकी तुलना पैरलल केबल से करें तो पैरलल केबल अधिकतम 18 इंच तक हो सकती है। सीरियल केबल का शुरुआती डेटा ट्रांसफर रेट 150MBps होती है जोकि पैरलल केबल से 13 प्रतिशत ज्यादा है। वर्तमान समय में प्रयोग की जाने वाली सीरियल केबल का डेटा ट्रांसफर रेट 600 MBps तक होता है। सीरियल ATA केबल एक विशेष इनकोडिंग स्कीम को प्रयोग करती है जिसे 8B/10B कहते हैं। यह स्कीम की केबल के द्वारा ट्रांसफर होने वाले डेटा को इनकोड करती है और डिकोड भी करती है। 8B/ 10B स्कीम के ओरिजनल कोड का विकास IBM ने किया था।
वर्तमान समय में प्रयोग की जाने वाले डेटा ट्रांसमिशन स्टैंडर्ड जैसे कि Gigabit Ethernet, फाइबर चैनल, फॉयरवायर इत्यादि में भी इसकी स्कीम को इस्तेमाल किया जाता है। SATA इंटरफेस में जिस भौतिक ट्रांसमिशन स्कीम का प्रयोग किया जाता है उसे differential NRZ कहते हैं। यहां पर NRZ का अर्थ Non Return to Zero होता है। यह तारों के बैलेंस जोड़े को प्रयोग करती है। इनमें से प्रत्येक +0.25V और -0.25V करेंट को प्रयोग करती हैं। इस डिफरेन्शियल ट्रांसमिशन की वजह से इलेक्ट्रोमैग्नेटिक रेडियेशन न्यूनतम हो जाता है और सिगनल आसानी से ग्रहण करके एढ़ा जाता है। SATA इंटरफेस में एक 15-pin की पॉवर केबल को विद्युत आपूर्ति की वैकल्पिक (optional) केबल के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है। यह 3.3V अतिरिक्त पॉवर को उपलब्ध कराती है जबकि इंडस्ट्री स्टैंडर्ड के अनुसार प्रयोग होने वाली चार पिनों वाली केबल 5V से 12V करेंट उपलब्ध कराती हैं। 15 पिनों के होने के बाबजूद भी इस कनेक्टर को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि यह मात्र 24mm का होता है। इसकी तीन पिनें क्रमश: 3.3V, 5V और 12V पॉवर लेवल को उपलब्ध कराती हैं। कम्प्यूटर सिस्टम में लगी पॉवर सप्लाई के अनुसार ही इन SATA पॉवर केबलों को प्रयोग किया जाता है। कभी-कभी आप इन दोनों को भी प्रयोग कर सकते हैं। यदि आपकी ड्राइव में इस तरह का कनेक्टर नहीं है तो आप कनवर्टर के द्वारा भी इसे प्रयोग कर सकते हैं। आप निम्न तालिका में SATA डेटा कनेक्टर पिनआउट को देख सकते हैं
उपरोक्त वर्णित सभी पिनें एक सिंगल पंक्ति में 1.25mm की दूरी पर स्थिति होती हैं। सभी ग्राउंड पिनें अन्य पिनों से ज्यादा लंबी होती है और इसीलिये वे सिगनल और पॉवर पिनों के कॉन्टेक्ट बनाने से पहले अपना कॉन्टेक्ट बना लेती हैं।
– साटा ऑप्शनल पॉवर कनेक्टर पिनआउट सीरियल ATA इंटरफेस में वैकल्पिक केबल के तौर पर प्रयोग की जाने वाली पॉवर कनेक्टर केबल के पिनों में करेंट और उनके कार्य की स्थिति को निम्न तालिका के द्वारा समझ सकते हैंसिगनल पिन सिगनल डिस्क्रिप्शन P1 +3.3V
उपरोक्त वर्णित सभी पिनें एक सिंगल पंक्ति में 1.25mm की दरी पर स्थिति होती हैं। सभी ग्राउंड पिनें अन्य पिनों से ज्यादा लंबी होती है और इसीलिये वे सिगनल और पॉवर पिनों के कॉन्टेक्ट बनाने से पहले अपना कॉन्टेक्ट बना लेती हैं। इनमें से तीन पॉवर पिनों का प्रयोग प्रत्येक वोल्टेज के लिये अधिकतम 4.5A करेंट को ले जाने के लिये होता है। SATA डिवाइसों की कॉन्फीगुरेशन बहुत ही सरल होता है क्योंकि इसमें मास्टर/स्लेव और केबल स्लेक्ट जम्पर सेटिंग जैसी कोई सेटिंग नहीं होती है जोकि पैरलल ATA के संदर्भ में की जाती है। वर्तमान समय में अनेक निर्माता ऐसे मोबाइल चिपसेट बनाने लगे हैं जिनके SATA इंटरफेस इनबिल्ट हो। सामान्य तौर पर SATA इंटरफेस को एक्सटर्नल इंटरफेस के तौर पर प्रयोग नहीं किया जाता है लेकिन एक विशेष केबल का प्रयोग करके आप कुछ खास परिस्थितियों में ऐसा कर सकते हैं। आजकल एक्सटर्नल हार्ड डिस्क को कम्प्यूटर और नोटबुक में USB पोर्ट और केबल के द्वारा प्रयोग किया जाता है।

Back to top button