हार्ड डिस्क अपग्रेड कैसे किया जाता है

DWQA QuestionsCategory: Questionsहार्ड डिस्क अपग्रेड कैसे किया जाता है
itipapers Staff asked 2 years ago

हार्ड डिस्क अपग्रेड कैसे किया जाता है हार्ड डिस्क क्या है इसकी क्या आवश्यकता है फ्लॉपी डिस्क क्या है हार्ड डिस्क क्या है समझाइए कम्प्यूटर सिस्टम में प्रयुक्त हार्ड डिस्क ड्राइव HDD को बदले हार्ड डिस्क में डाटा कैसे संग्रहित होता है समझाइए हार्ड डिस्क का आविष्कार किसने किया हार्ड डिस्क एवं उसके architecture को समझाइये। हार्ड डिस्क एवं कैश मेमोरी का वर्णन कीजिए

1 Answers
itipapers Staff answered 12 months ago

यदि आपके सिस्टम में डेटा स्टोर करने की जगह कम हो गयी है तो आप कम्प्यूटर की हार्ड डिस्क को बदलकर उसकी जगह नयी हार्ड डिस्क को लगा सकते हैं। उदाहरण के लिये यदि आपके कम्प्यूटर में 200 GB की हार्ड डिस्क है तो आप इसके स्थान के 500 GB या इससे भी अधिक डेटा स्टोर क्षमता वाली हार्ड डिस्क प्रयोग कर सकते हैं। आइये सीखें कि कम्प्यूटर में हार्ड डिस्क को अपग्रेड करने का कार्य कैसे किया जाता है

⇨ सबसे पहले इस बात का पता लगायें कि आपके कम्प्यूटर में पहले से जिस हार्ड डिस्क को प्रयोग किया जा रहा है वह IDE तकनीक वाली है या SATA तकनीक वाली।

⇨ कई मदरबोर्डों में इन दोनों (IDE और SATA) का प्रयोग किया जाता है और कई में किसी एक का

⇨ जब हार्ड डिस्क की तकनीक का पता लग जाये को यह पता लगायें कि आपके सिस्टम में लगा मदरबोर्ड कितने GB या TB तक की हार्ड डिस्क को सपोर्ट करता है।

⇨ जब आपको मदरबोर्ड की हार्ड डिस्क को सपोर्ट करने की अधिकतम सीमा का पता चल जाये को बाजार से उस अधिकतम सीमा के अंतर्गत आने वाली क्षमता की हार्ड डिस्क लायें।

⇨ यह हार्ड डिस्क उसी तकनीक की होनी चाहिये जिस तकनीक को मदरबोर्ड सपोर्ट कर रहा है। या तो यह IDE होनी चाहिये या फिर SATA

⇨ कम्प्यूटर में विद्युत आपूर्ति को बंद करके कैबिनेट को खोलें और पुरानी हार्ड डिस्क के पॉवर कनेक्टरों को निकाल दें। इसके बाद उस केबल को भी निकाल दें जो इसे मदरबोर्ड से जोडती है।

⇨ केबल और कनेक्टर निकालने के बाद हार्ड डिस्क के उन स्क्रू को खोलें जिनसे वह कैबिनेट से कसा है। स्क्रू खोलने के बाद हार्ड डिस्क को कैबिनेट से निकाल लें। ⇨ इसके स्थान पर नयीं हार्ड डिस्क को लगायें। हार्ड डिस्क को कसने के बाद केबल और पॉवर कनेक्टरों को जोड़ दें।

⇨ अब सिस्टम को ऑन करें और बॉयोस सेटअप में जायें तथा इसमें दिये ऑटो डिटेक्ट विकल्प का प्रयोग करके हार्ड डिस्क को डिटेक्ट करें। जब सिस्टम की बॉयोस हार्ड को उसकी सही क्षमता के अनुसार डिटेक्ट कर ले को इसे सेव करें।

⇨ नयी हार्ड डिस्क को विंडोज़ ऑपरेटिंग सिस्टम या जो भी ऑपरेटिंग सिस्टम आपके कम्प्यूटर में इंस्टॉल है से फार्मेट करें। आप चाहें तो अपनी जरूरत के अनुसार इसमें पार्टीशन भी बना सकते हैं।

Back to top button