DVD डिस्क ड्राइव किसे कहते है

DWQA QuestionsCategory: QuestionsDVD डिस्क ड्राइव किसे कहते है
itipapers Staff asked 2 years ago

DVD डिस्क ड्राइव किसे कहते है ऑप्टिकल डिस्क होती है डीवीडी का विस्तृत रूप है डीवीडी का व्यास कितना होता है सीडी की भंडारण क्षमता कितनी होती है डीवीडी कितने रुपए की आती है डीवीडी-आरडब्ल्यू क्या है डीवीडी का उदाहरण है ऑप्टिकल डिवाइस क्या है

1 Answers
itipapers Staff answered 12 months ago

डीवीडी का पूरा नाम डिजिटल वर्सेटाइल डिस्क होता है और आम बोलचाल की भाषा में इसे उच्च क्षमता की सीडी कह सकते हैं। सीडी ड्राइव और डीवीडी ड्राइव का कार्य प्रणाली एक जैसी होती है और दोनों एक जैसी ऑप्टिकल तकनीक को ही प्रयोग करती हैं। दोनों मूल अंतर केवल इतना है कि सीडी में जहां डेन्सिटी सामान्य होती है वहीं DVD की डेन्सिटी बहुत ज्यादा होती है।
इसी डेन्सिटी के कारण सीडी में केवल 737 MB डेटा स्टोर हो सकता है वहीं DVD में यह 4.7 GB तक पहुंच जाता है। यदि डीवीडी दोहरी परत वाली है तो इसमें 8.5 GB डेटा तक स्टोर हो जाता है। सीडी से यदि डीवीडी के तकनीकी अंतर को देखा जाये तो यह अंतर निम्न होता है
⇨ डीवीडी के पिट्स सीडी की तुलना में 2.25 गुना छोटे होते हैं। इनकी लंबाई 0.9 से लेकर 0.4 माइक्रॉन्स होती है।
⇨ डीवीडी की ट्रैक पिच 2.16 गुना कम होती है और यह 1.6 से लेकर 0.74 माइक्रॉन्स तक होती है।
⇨ इसका डेटा एरिया सीडी से कुछ ज्यादा होता है और यह 8605 से लेकर 8759 मिलीमीटर तक हो सकता है।
⇨ डीवीडी का चैनल बिट मॉड्यूलेशन 1.06 गुना ज्यादा सक्षम होता है।
⇨ डीवीडी में प्रयोग होने वाला इरर करेक्टिंग कोड 1.32 गुना ज्यादा सक्षम होता है।
⇨ डीवीडी में सेक्टर ओवरहैड 1.06 टाइम कम होता है। डीवीड के पिट्स और लैंड्स सीडी की अपेक्षा आकार में छोटे और एक-दूसरे के ज्यादा नजदीक होते हैं। चित्र में आप सीडी और डीवीडी को पिट्स एंड लैंडस के संदर्भ में समझ सकते हैं।
डीवीडी में पिट्स एक सिंगल गोलाकार ट्रैक में स्टाम्प किये जाते हैं, इनकी स्पेसिंग प्रत्येक टर्न में 0.74 माइक्रॉन्स होती है। एक मिलीमीटर में ट्रैक डेंसिटी 1351 टर्न होते हैं। एक इंच में इन टर्न की संख्या 34324 होते हैं। एक डिस्क में टोटल 49324 टर्न होते हैं यदि इनकी गणना किलोमीटर में करें 11.8 KM या 7.35 मील होते हैं। ट्रैक का निर्माण सेक्टरों को कम्पोज करने से होता है और प्रत्येक सेक्टर में 2048 बाइट डेटा स्टोर हो सकता है। डीवीडी डिस्क मुख्य रूप से चार भागों में विभाजित होती है
1. हब क्लैम्प एरियाः डिस्क के बीच वाले में यह एरिया होता है इसे ड्राइव के मैकेनिज्म के द्वारा डिस्क पर पकड़ बनाने के लिये प्रयोग किया जाता है। इस एरिया कोई भी डेटा और सूचना स्टोर नहीं होती है।
2. लीड-इन जोन: डीवीडी के इस भाग में बफर जोन, रिफरेन्स कोड और कंट्रोल डेटा जोन जैसी डिस्क से जुड़ी सूचनायें होती हैं। कंट्रोल डेटा जोन में सूचनाओं से सम्बन्धित 16 सेक्टर होते हैं जोकि 192 बार रिपीट होते हैं और इनकी कुल संख्या 3072 सेक्टर होती है।
3. डेटा जोन: डीवीड के डेटा जोन में वीडियो, ऑडियो और सामान्य डेटा फाइलों को स्टोर किया जाता है। यह डिस्क के सेक्टर नंबर 196608(30000h) से शुरू होता है, डेटा जोन में सेक्टरों की कुल संख्या 2292897 प्रति लेयर सिंगल लेयर की डिस्क के संदर्भ में होती है।
4. लीड-आउट एरिया: लीड-आउट जोन वास्तव में अंतिम डेटा जोन के रूप में होता है। इस जोन के समस्त सेक्टर शून्य को (00h) डेटा के लिये समाहित रखते हैं।
⇨ डीवीडी का सेंटर होल 15mm की परिधि में होता है और सेंटर में इसका व्यास 7.5 mm होता है।
⇨ सेंटर होल से 16.5mm की परिधि में हब क्लैप एरिया होता है। इसमें लीड जोन डिस्क के केंद्र से 22mm के रेडियस से शुरू होता है। डेटा जोन केंद्र से 22mm के रेडियस से शुरू होता है और यह 57mm तक जाता है।
⇨ लीड – आउट या मिडिल जोन एरिया 58mm से शुरू होता है। डिस्क का ट्रैक औपचारिक रूप से 58.5mm पर समाप्त होता है। इसमें डिस्क के किनारे तक 1.5mm ब्लैंक एरिया होता है
⇨ वर्तमान समय में निम्न क्षमताओं की डीवीडी डिस्क को प्रयोग किया जा रहा है
1. DVD-5: 4.7GB, सिंगल साइड, सिंगल लेयर
2. DVD-9: 8.5GB, सिंगल साइड, डुयेल लेयर
3. DVD-10: 9.4GB, डबल साइड, सिंगल लेयर
4. DVD-18: 17.1GB, डबल साइड, डबल लेयर

Back to top button