Question Paper

ITI CHNM Theory – Electronic Components Question Answer

ITI CHNM Theory – Electronic Components Question Answer

• एम्पलीफायर में ट्रांजिस्टरों की कम विद्युत करंट को बढ़ाने के लिए प्रयोग करते हैं।
• NPN ट्रांजिस्टरों को PNP ट्रांजिस्टरों की अपेक्षा स्विचिंग स्पीड के कारण पसंद किया जाता है।
• PCB में जिस तरफ इलैक्ट्रॉनिक कम्पोनेंट लगे होते हैं, उसे कम्पोनेंट साइड कहते हैं।
• ट्रांजिस्टर में दो PN जंक्शन होते हैं।
• ट्रांजिस्टर के बेस एमीटर जंक्शन पर, कम रेजिस्टेंस प्राप्त होता है।
• ट्रांजिस्टर में बेस करंट, आमीटर करंट से 5% कम होती है।
• ट्रांजिस्टर की लीड की लम्बाई सोल्डर कने के लिए केस से कम से कम 5 मिमी. होनी चाहिये।
• AF एम्पलीफायरों में सबसे अधिक प्रयोग होने वाली कल्पिंग R-C कल्पिंग है।
• आवश्यक सप्लाई वोल्टेज प्राप्त करने के लिए कई संख्याओं में सोलर सैलों को सीरिज में जोड़ा जा सकता है।
• CB एम्पलीफायर का इनपुट रेजिस्टैंस बहुत कम होता है।
• AF जनरेटर में न्यूनतम फ्रीक्वेंसी 20 Hz से प्रारंभ होती है।

ITI CHNM Theory – Electronic Components Question Answer

किसी चालक में मुक्त इलेक्ट्रॉनों की गति …… कहलाती है।
(a) वोल्टेज
(b) धारा
(c) पुनसँयोजन
(d) साम्य

Answer

धारा

इलेक्ट्रोस्टैटिक्स इलेक्ट्रिसिटी की वह शाखा है जो …… से संबंधित है।
(a) दो चालकों के मध्य के अंतराल से होकर प्रवाहित होने वालीऊष्मा
(b) विरामाव्व्स्था मेंआवेस
(c) गतिशील अवस्था में आवेश
(d) आवेशों के रूप में ऊर्जा

Answer

विरामाव्व्स्था मेंआवेस

किसी वैक्यूम डायोड में इलेक्ट्रॉनों का उत्सर्जन निम्न के द्वारा प्राप्त किया जाता है
(a) स्थिर वैद्युतिकी क्षेत्र
(b) चुम्बकीय क्षेत्र
(c) ऊष्मा
(d) इलेक्ट्रॉन वर्षा

Answer

ऊष्मा

कोई तात्विक अर्धचालक परिशुद्ध शून्य तापमान पर
(a) इसमें भारी संख्या में छिद्र होते हैं।
(b) इसका आचरण एक इंसुलेटर की तरह हो जाता है।
(c) इसका आचरण धात्विक चालक की तरह हो जाता है।
(d) इसमें कुछ छिद्र तथा उतनी ही संख्या में इलेक्ट्रॉन होते हैं।

Answer

इसमें भारी संख्या में छिद्र होते हैं।

0.22 वोल्ट वाले फॉरवर्ड बायस तथा 25°C पर 1 A रिवर्ससैचुरेशन करंट वाले Ge PN जंक्शन डायोड से होकर लगभग ……… धारा का प्रवाह होता है।
(a) 6.3A
(b) 5.22A
(c) 4mA
(d) 5.1 mA

Answer

5.22A

अर्धचालकों में निषेधित ऊर्जा अंतराल
(a) वैलेंस बैंड (Valance Band) के ठीक नीचे होता है।
(b) कंडक्शन बैंड के ठीक ऊपर होता है।
(c) वैलेंस बैंड तथा कंडक्शन बैंड के मध्य में होता है।
(d) वैलेंस बैंड के समान होता है।

Answer

वैलेंस बैंड तथा कंडक्शन बैंड के मध्य में होता है।

Ge PN जंक्शन के लिए अवरोधी विभवांतर होता है
(a) 0.6y
(b) 03v
(c) 0.lv
(d) 0.5y

Answer

03v

किसी पावर सप्लाई का रिपल फैक्टर (Ripple Factor) निम्न में से किसका माप होता है?
(a) अपने वोल्टेज रेगुलेशन का
(b) अपने डायोड रेटिंग का
(c) पावर आउटपुट की परिशुद्धता का
(d) अपनी फिल्टर कार्यक्षमता का

Answer

पावर आउटपुट की परिशुद्धता का

एक PN जंक्शन डायोड ……. के साथ सिलिकॉन डोपिंग से निर्माण किया जा सकता है।
(a) एन्टीमनी और फॉस्फोरस
(b) आर्सेनिक और एन्टीमनी
(c) बोरोन और गैलियम
(d) आर्सेनिक और इण्डियम्

Answer

आर्सेनिक और इण्डियम्

विद्युत आपूर्ति का रिपल फैक्टर मापा जाता है
(a) डायोड रेटिंग द्वारा
(b) इसकी फिल्टर दक्षता द्वारा
(c) इसके वोल्टेज रेगुलेशन द्वारा
(d) विद्युत आपूर्ति की शुद्धता द्वारा

Answer

इसकी फिल्टर दक्षता द्वारा

कौनसा डायोड ब्रेकडाउन क्षेत्र में कार्य करता है?
(a) टनल डायोड
(b) रेक्टिफायर डायोड
(c) जीनर डायोड
(d) पिन डायोड

Answer

जीनर डायोड

निम्न में से कौनसी सामग्री शुद्ध अर्धचालक है?
(a) आर्सेनिक
(b) इण्डियम
(c) गैलियम
(d) सिलिकॉन

Answer

सिलिकॉन

निम्नलिखित डायोड से कौनसा डायोड वोल्टेज रेगुलेटर सर्किटमें पाया जाता है?
(a) सिलिकॉन डायोड
(b) जर्मेनियम डायोड
(c) जीनर डायोड
(d) टनल डायोड

Answer

जीनर डायोड

“n” प्रकार के मैटेरियल में मेजोरिटी कैरियर्स होते हैं –
(a) डोपेंट्स
(b) mहोल्स
(c) स्लोअर
(d) इलेक्ट्रॉन्स

Answer

इलेक्ट्रॉन्स

प्रत्येक सेमीकंडक्टर मैटेरियल में कितने वैलेंस इलेक्ट्रॉन्स होते हैं?
(a) 2
(b) 1
(c) 3
(d) 4

Answer

4

निम्नलिखित में से कौन मूव (Move) नहीं करते हैं?
(a) मेजोरिटी कैरियर्स
(b) आयन्स
(c) होल्स
(d) फ्री इलेक्ट्रॉन्स

Answer

आयन्स

यदि तापमान के बढ़ने के साथ-साथ कंडक्टेंस का मान बढ़ता है,तो यह कहलाता है
(a) पॉजिटिव कॉएफिशिएंट (Positive Coefficient)
(b) नेगेटिव करंट फ्लो (Negative Current Flow)
(c) पॉजिटिव रेजिस्टेंस (Positive Resistance)
(d) नेगेटिव कॉएफिशिएंट (Negative Coefficient)

Answer

नेगेटिव कॉएफिशिएंट (Negative Coefficient)

यदि एक डायोड को दिया गया वोल्टेज PIP से अधिक हो, तोइसके परिणामस्वरूफ
(a) आउटपुट साइड पर और अधिक विकृति (Distortion) उत्पन्नहोती है।
(b) खराब रेगुलेशन प्राप्त होता है।
(c) दोनों दिशाओं में कंडक्शन प्राप्त होता है।
(d) जंक्शन पर ब्रेकडाउन होता है।

Answer

जंक्शन पर ब्रेकडाउन होता है।

एक डायोड का PIP सामान्यतया होता है
(a) DC वोल्टेज का आधा होता है।
(b) DC वोल्टेज के समान होता है।
(c) DC आउटपुट वोल्टेज का दुगुना होता है।
(d) DC आउटपुट वोल्टेज का 100 गुणा होता है।

Answer

DC आउटपुट वोल्टेज का दुगुना होता है।

एक रेक्टिफायर होता है
(a) द्विपक्षीय उपकरण (Blateral Device)
(b) रेखीय उपकरण (Linear Device)
(c) अरेखीय उपकरण (Non-linear Device)
(d) पैसिव उपकरण (Passive Device)

Answer

अरेखीय उपकरण (Non-linear Device)

एक हाफ वेव रेक्टिफाइड साइन वेव का औसत मान (Mean Value) होता है
(a) 0.707 im
(b) 0.66 in
(c) 0.5 iin
(d) 0.318 in

Answer

0.318 in

एक हाफ वेव रेक्टिफाइड साइन वेव का फॉर्म फैक्टर (FormFactor) होता है
(a) 10
(b) 1.11
(c) 1.44
(d) 1.57

Answer

1.11

बिना फिल्टर के एक फुल वेव रेक्टिफायर सर्किट का एक हाफवेव रेक्टिफायर सर्किट की तुलना में रिपल फैक्टर होता है
(a) हाफ वेव रेक्टिफायर का आधा
(b) हाफ वेव रेक्टिफायर के आधे से कम
(c) हाफ वेव रेक्टिफायर के समान
(d) उपरोक्त में से कोई नहीं

Answer

उपरोक्त में से कोई नहीं

एक जीनर डायोड में होता है
(a) एक जंक्शन
(b) दो जंक्शन
(c) तीन जंक्शन
(d) उपरोक्त में से कोई नहीं

Answer

एक जंक्शन

एक जीनर डायोड
(a) एक उच्च अग्रेषित वोल्टेज रेटिंग है।
(b) निम्न व्युत्पन्न वोल्टेज पर एक तीव्र ब्रेकडाउन है
(c) एक एम्प्लीफायर के रूप में उपयोगी है।
(d) एक ऋणात्मक प्रतिरोध

Answer

निम्न व्युत्पन्न वोल्टेज पर एक तीव्र ब्रेकडाउन है

एक जीनर डायोड में डोपिंग लेवल एक क्रिस्टल डायोड………….. होता है।
(a) समान
(b) से कम
(c) से अधिक
(d) उपरोक्त में से कोई नहीं

Answer

से अधिक

एक जीनर डायोड हमेशा ………….. में जुड़ता है।
(a) रिवर्स
(b) फॉरवर्ड
(c) या तो रिवर्स या फॉरवर्ड
(d) उपरोक्त में से कोई नहीं

Answer

रिवर्स

एक जीनर डायोड हमेशा अपने कार्य के लिए …… करैक्टरस्टिक्स का उपयोग करता है।
(a) फॉरवर्ड
(b) रिवर्स
(c) रिवर्स और फॉरवर्ड दोनों
(d) उपरोक्त में से कोई नहीं

Answer

रिवर्स

• सेमीकण्डक्टर के रेजिस्टेंस का टेम्परेचर कोएफिशिएंट निगेटिव होता है।
• जीनर डायोड का कार्य स्थिर (Constant) आउटपुट वोल्टेज प्रदान करना होता है।
• जीनर डायोड के कनेक्शन सर्किट में सदैव रिवर्स वायस में करते
• सामान्य उपयोगी डायोड के स्थान पर LED की फॉरवर्ड वोल्टेज 1.5 से 3 वोल्ट के बीच होती है।

Electronics,all electronics components,basic electronic components,electronic component,electronic components explained,electronics engineering,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Discover more from ITI Paper

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading